सावन मे घर पर कनखजूरा दिखे तो चमकेगी किस्मत , बस ध्यान रखे इन बातो का , जानिए कहता है ज्योतिष शास्त्र?

सावन मे घर पर कनखजूरा दिखे तो चमकेगी किस्मत , बस ध्यान रखे इन बातो का , जानिए कहता है ज्योतिष शास्त्र?, बारिश का मौसम शुरू हो गया है , इस मौसम में अक्सर बरसाती कीड़े मकोड़े निकल आते है। हिंदू धर्म में कई ऐसे पशु-पक्षी और कीड़े-मकोड़े हैं जिनका घर में प्रवेश जीवन में कुछ शुभ-अशुभ फल देता है। ऐसा कहा जाता है कि इन्हें देखने का मतलब आपके जीवन में आने वाले कुछ बदलाव हो सकते हैं।कई ऐसे जीव हैं जो आपके लिए भविष्य में होने वाली किसी अच्छी घटना का संकेत देते हैं और कुछ को देखना मतलब जीवन में समस्याओं का सामना करना। ऐसे ही हम बात कर रहे हैं कनखजूरा Centipede की जो आपने भी कई बार देखा होगा। कनखजूरा कीड़े का ज्योतिष में बहुत महत्व बताया जाता है और इसका जुड़ाव अग्नि तत्व से माना जाता है।

आपके घर में भी कभी अचानक से कनखजूरा दिखाई दे जाता होगा। वहीं सावन के महीने में भी इस कनखजूरा को देखना जीवन में कुछ बदलावों के संकेत देता है। यदि सावन के महीने में आपके घर में भी ये आ जाए तो समझें कि ये ज्योतिष के कुछ संकेत भी हो सकते हैं। आइए ज्योतिषाचार्य डॉ आरती दहिया जी से जानें सावन में कनखजूरा देखने के कुछ शुभ-अशुभ फलों के बारे में।यदि यह सावन में घर में दिखे तो जीवन में क्या संकेत मिलते हैं, यहां विस्तार से जानें।

यह भी पढ़े :आमचूर से बढ़ता है खाने का स्वाद , जानें आमचूर खाने के फायदे और नुकसान

सावन में अगर घर में जीवित कनखजूरा दिख जाये

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार सावन के महीने में घर के अंदर कनखजूरा का दिखाना बेहद शुभ माना जाता है. जहां सावन विकास और आत्मनिरीक्षण का समय होता है वही कनखजूरा अग्नि तत्व से संबंधित कीड़ा माना जाता है. जो एक शक्तिशाली और शुभ शक्ति का प्रतीक माना जाता है. घर के अंदर चलता हुआ कनखजूरा दिखाई देना आपकी तरक्की, संतान प्राप्ति और घर में खुशहाली का प्रतीक माना जाता है. ये संकेत है घर में कुछ नया और अच्छा होने वाला है.

ज्योतिष के अनुसार यदि आपको घर में कनखजूरा दिखे तो उसे जीवित और गतिशील होना चाहिए। सावन के दौरान कनखजूरा घर में ही दिखना चाहिए, बाहर नहीं। यदि किसी जंगल या अन्य स्थान पर यह दिखे तो यह सामान्य घटना है और उसका महत्व आपके व्यक्तिगत जीवन के लिए नहीं है।

कनखजूरा देखना क्यों है शुभ

सावन के दौरान कनखजूरा देखना शुभ क्यों माना जाता है, इसके ज्योतिष में अलग कारण बताए जाते हैं। यदि हम धार्मिक कारणों की बात करें तो सावन का महीना आध्यात्मिक आत्मनिरीक्षण और विकास का समय माना जाता है और कनखजूरा अग्नि तत्व से जुड़ा हुआ कीड़ा माना जाता है, जिसे एक शक्तिशाली और शुभ शक्ति का प्रतीक भी माना जाता है। घर में इसका दिखना एक ऐसे संकेत के रूप में देखा जाता है कि आपका घर नुकसान से सुरक्षित है और इसके सदस्यों को भविष्य के लिए सौभाग्य का आशीर्वाद मिल सकता है। अगर आपको सावन के दौरान कनखजूरा (कनखजूरा दिखने के संकेत) दिख जाए तो इसे इस बात का संकेत समझें कि आपके साथ अवश्य कुछ शुभ होने वाला है। यह आपकी नौकरी से जुड़ा हो सकता है, किसी नए रिश्ते की शुरुआत हो सकती है या घर में किसी नन्हे मेहमान के आने का संकेत हो सकता है।

ऐसा कनखजूरा हो सकता है अशुभ

यदि आपको सावन में घर में मरा हुआ कनखजूरा दिख जाए तो ये भविष्य के लिए किसी समस्या का संकेत हो सकता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, सावन के दौरान घर में मरा हुआ कनखजूरा देखना निकट भविष्य में बाधाओं और चुनौतियों का संकेत देता है। कनखजूरा को सुरक्षा और सौभाग्य के प्रतीक के रूप में देखा जाता है, इसलिए इसकी मृत्यु को एक संकेत के रूप में देखा जाता है कि घर अब संरक्षण में नहीं है। यह भविष्य में परिवार के किसी सदस्य की बीमारी का संकेत भी हो सकता है। मरे हुए कनखजूरे को हाथों से छूना नहीं चाहिए।

यह भी पढ़े :इन ऑक्सीडाइज्ड टो रिंग को पहनने के बाद बढ़ जाएगी आपके पैरों की ख़ूबसूरती , देखे ऑक्सीडाइज्ड टो रिंग डिजाइन

कनखजूरा के बारे में क्या कहता है ज्योतिष शास्त्र

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार सावन के महीने में बारिश होती है और इस मौसम में यदि आपको घर में कनखजूरा दिखाई देता है तो यह बेहद शुभ होता है. घर में कनखजूरा की उपस्थिति धरती पर समृद्धि और धन आगमन का प्रतीक है. इसके अलावा इसे देवताओं का आशीर्वाद भी माना जाता है. कनखजूरा को सौभाग्य का प्रतीक भी माना जाता है.

You may have missed